कांग्रेस व निर्दलीय दोनों का 33-33 वोटों का दावा; पार्षद 60 ही हैं, क्रॉस वोटिंग हुई तो ममता, नहीं तो मीतू की जीत

नागाैर : नगरपरिषद की पहली महिला सभापति का निर्णय रविवार दोपहर ढाई बजे तक हो जाएगा। वोटिंग सुबह 10 बजे से दोपहर दो बजे तक होगी। इसी के साथ पिछले साढ़े 5 महीने से शहर में चल रही प्रशासक की व्यवस्था भी समाप्त हो जाएगी। नगरपरिषद के 60 में से 27 पार्षदों के साथ भले ही कांग्रेस बहुमत के करीब हो, कांग्रेस पार्षदों के दो गुटों में बंटने से कांग्रेस का सीधा मुकाबला निर्दलीय मीतू बोथरा से है। निर्दलीय मीतू बोथरा ने दावा किया कि उनके पास बाड़ेबंदी में 33 पार्षद हैं। इनके अलावा 13 पार्षद अलग हैं जोे उनके संपर्क में हैं।

उधर, ममता के पति मांगीलाल भाटी का कहना है कि बोर्ड कांग्रेस ही बनाएगी। भाटी का दावा है कि कांग्रेस के पक्ष में 33 से 34 वोट पड़ेंगे। हालांकि कांग्रेस से सर्वाधिक 27 पार्षद चुनकर आने के बावजूद अंदरूनी बगावत के चलते कांग्रेस की प्रतिष्ठा दांव पर है। क्योंकि इनके 9 पार्षद निर्दलीय के खेमे में हैं। वहीं कुछ निर्दलीय कांग्रेस के खेमे में बताए जा रहे हैं। ऐसे में क्रॉस वोटिंग भी हो सकती है। मामला जातिगत समीकरणों में भी बदलने लगा है।

निर्दलीयों के समर्थन से ही बनेगा बोर्ड

कांग्रेस के पक्ष में (दावा)

27 जीते

1 भाजपा

10 निर्दलीय

निर्दलीय के पक्ष में (दावा)

21 जीते

9 कांग्रेस

9 भाजपा

दोनों की राशि सिंह

मध्याह्न तक मानसिक तनाव रहेगा। घर-कार्य क्षेत्र में तालमेल बैठाने में परेशानी रहेगी लेकिन डरें नहीं। दोपहर बाद स्थिति पक्ष में रहेगी। विरोधियों को भी आपके सहयोग की जरुरत होगी।
– ज्योतिषाचार्य मनोज व्यास

परिसर में मोबाइल बैन, दोपहर ढाई बजे तक आएगा रिजल्ट चुनाव के दौरान कलेक्ट्रेट रोड पर बैरिकेडिंग रहेगी। रिटर्निंग अधिकारी अमित चौधरी ने बताया कि मोबाइल व इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों पर प्रतिबंध रहेगा।

इनसाइड स्टोरी- हार या जीत ज्यादा बड़ी नहीं होगी

कांग्रेस

कांग्रेस से सर्वाधिक 27 पार्षद चुनकर आए थे। आंकड़े के हिसाब से लग रहा था कि कांग्रेस 31 के जादुई आंकड़े को आसानी से छू लेगी लेकिन पार्टी में बगावत से स्थिति बिगड़ गई। 9 से ज्यादा पार्षद दूसरे खेमे निर्दलीय में चले गए। अब अपनों के साथ ही निर्दलीयों का सहयोग लेना चुनौती बना हुआ है।

दावा : कांग्रेस प्रत्याशी ममता के पति मांगीलाल भाटी का दावा है कि उनके पास पार्षदों का आंकड़ा 33 से ज्यादा है। जिसमें कांग्रेस, निर्दलीय सहित भाजपा के पार्षद भी शामिल हंै। ऐसे में वो आसानी से बोर्ड बना लेंगे।

निर्दलीय

21 निर्दलीय पार्षद जीते। भाजपा के समर्थन से मीतू बोथरा मैदान में आ गईं। बोथरा के पास भाजपा के 12 में से 9, निर्दलीय 11 सहित अन्य बागी कांग्रेस पार्षद साथ आने से पहले दिन से ही मजबूती मिल गई लेकिन अब भीतरघात का बड़ा खतरा है। इन सबका वोट डलवाना चुनौती भरा है।

दावा : निर्दलीय प्रत्याशी मीतू के पति नवरतन बोथरा का दावा है कि उनके पास मौजूद 33 पार्षदों के साथ-साथ अन्य 13 पार्षद उनके लगातार संपर्क में हैं, ऐसे में उनके पास कुल आंकड़ा 46 है, वो आसानी से बोर्ड बनाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Become a Journalist
Feedback/Query