सीएम उद्धव ठाकरे से भी लॉकडाउन के दौरान मिल चुके हैं सोनू

मुंबई : एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार और फिल्म अभिनेता सोनू सूद की मुलाकात के बाद विरोधी दल भारतीय जनता पार्टी के नेता और पूर्व मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने सोनू सूद पर हमला बोला है उन्होंने कहा कि किसी नेता से मुलाकात करने के बाद लोगों को कवच और कुंडल मिल जाता है और वह सोचते हैं कि कुछ भी करके बच निकलेंगे। कानून उसका कुछ भी नहीं कर सकता। उन्होंने कहा कि हर किसी को शरद पवार से मिलकर ही अपनी बात कहनी रहती है क्या?

उद्धव ठाकरे से भी की थी मुलाकात
मुनगंटीवार ने कहा कि सोनू सूद पर लॉकडाउन के दौरान भी कुछ आरोप लगे थे। जिसके बाद उन्होंने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मुलाकात की थी और इस मुलाकात के बाद वह गायब हो गए थे। उन्होंने कहा कि सोनू सूद ने शरद पवार से मुलाकात जरूर की है। लेकिन कायदे से उन्हें अपनी बात रखने के लिए बीएमसी या कोर्ट के पास जाना चाहिए था ना कि पवार के पास।

मंगलवार सुबह हुई मुलाकात
फिल्म अभिनेता सोनू सूद ने मंगलवार की सुबह राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के सर्वेसर्वा शरद पवार से उनके बंगले सिल्वर ओक पर मुलाकात की। रॉबिन हुड सोनू ने बताया कि उन्होंने लॉकडाउन के दौरान जनता के लिए किए गए अपने कामों की जानकारी शरद पवार को दी। आपको बता दें कि फिलहाल सोनू सूद और बृहन्मुंबई महानगरपालिका के बीच रेसिडेंशियल बिल्डिंग के व्यापारिक इस्तेमाल को लेकर विवाद चल रहा है। कोरोना महामारी और लॉकडाउन के दौरान जिस प्रकार से सोनू सूद ने आम नागरिकों और प्रवासी मजदूरों की मदद की थी। वह आज भी लोगों के दिलों में ताजा है। सोनू सूद के बर्ताव की प्रशंसा चारों तरफ खुले दिल से की गई थी।

सोनू के खिलाफ़ बीएमसी की शिकायत
बृहन्मुंबई महानगरपालिका ने फिल्म अभिनेता सोनू सूद के खिलाफ जो शिकायत की है। उसमें बीएमसी ने कहा है कि सोनू ने मुंबई के ए बी नायर रोड पर मौजूद शक्ति सागर बिल्डिंग महानगरपालिका को जानकारी दिए बगैर होटल में तब्दील की गयी। जबकि शक्ति सागर रेसिडेंशियल बिल्डिंग है लेकिन उसका कमर्शियल इस्तेमाल किया जा रहा है। बीएमसी की माने तो यह महाराष्ट्र रीजन एंड टाउन प्लानिंग एक्ट की धारा 7 के अनुसार यह दंडनीय अपराध है। हालांकि सोनू ने इन आरोपों को नकारते हुए कहा है कि बीएमसी से उसने जमीन के मालिकाना हक के ट्रांसफर की इजाजत ली है और सिर्फ महाराष्ट्र कोस्टल जोन मैनेजमेंट ऑथोरिटी से परमिशन मिलनी बाकी है।

अदालत में चल रही है सुनवाई
बीएमसी और सोनू सूद के दरम्यान चल रहे इस विवाद की सुनवाई बॉम्बे हाईकोर्ट में चल रही है। सोनू सूद और शरद पवार के बीच हुई इस मुलाकात के कई मायने निकाले जा रहे हैं। सबको पता है कि भले ही महाराष्ट्र के सरकार के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे हैं। लेकिन पर्दे के पीछे सरकार चलाने में पवार का भी अहम योगदान है। ऐसे में सोनू सूद कि नैया को शरद पवार ही मंझधार से पार लगा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Become a Journalist
Feedback/Query