सीजीएसटी चीफ कमिश्नर से मिले गुजरात टेक्सटाइल ट्रेडर्स एसोसिएशन अध्यक्ष

सूरत : चैंबर, कैट, फोस्टा और गुजरात टेक्सटाइल प्रोसेसर्स एसोसिएशन ने मंगलवार को सेंट्रल गुड्स एंड सर्विस टैक्स, वडोदरा के चीफ कमिश्नर अशोक कुमार मेहता से मुलाकात की। प्रोसेसर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष जितेंद्र बखारिया ने सीजीएसटी विभाग को फर्जी जीएसटी ऑपरेटरों को फ्लश आउट करने में सहयोग देने का भरोसा दिलाया।

बखारिया ने चीफ कमिश्नर से मांग की कि 18% के स्लैब में आने वाली सर्विस टैक्स के रिफंड की व्यवस्था नहीं है। उसमें मात्र 18% गुड्स पर लगने वाले जीएसटी की रिफंड की व्यवस्था करनी चाहिए। एसोसिएशन द्वारा इसके लिए हाईकोर्ट में रिट दायर की गई थी, जो हमारे पक्ष में हैं।

व्यापारी सीधे संपर्क कर सकते हैं | चीफ कमिश्नर ने कहा कि मुद्दा काउंसिल कमेटी के समक्ष रखा जाएगा और 18 प्रतिशत के स्लैब में आने वाली सर्विस टैक्स में भी रिफंड दिलाने का प्रयास किया जाएगा। उन्होंने कहा कि उद्योग और व्यापारियों को गलत एलीमेंट द्वारा यदि जीएसटी के मुद्दे पर कोई समस्या, परेशानी हो तो मुझसे सीधे संपर्क कर सकते हैं। उद्योगों के विकास के लिए सभी प्रयास किए जाएंगे।

कपड़े पर एक समान 5 प्रतिशत जीएसटी लगाएं
कैट समेत संगठनों ने कमिश्नर से जीएसटी में संशोधन करने की मांग की है। जिसमें धारा 45 के तहत जॉबवर्क के कागजात रखने में छूट, आईटीसी-04 में जॉबवर्क कीमत और अंदाजित जीएसटी भुगतान शामिल है। लहंगे पर जीएसटी 12 प्रतिशत से 5 फीसदी की जाए। इसके साथ ही कपड़े के सभी घटकों पर एक समान 5 प्रतिशत जीएसटी लगाने की मांग की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Become a Journalist
Feedback/Query