अमरावती में लॉकडाउन… महाराष्ट्र में कोरोना से बिगड़े हालात

मुंबई : कोरोना वायरस का संक्रमण महाराष्ट्र में एक बार फिर खतरनाक रूप लेता जा रहा है। ऐसे में राज्य में एक बार फिर लॉकडाउन लगाने की चर्चा शुरू हो गई है। राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे  ने रविवार को कहा कि महाराष्ट्र में फिर से कोरोना वायरस का संक्रमण सिर उठा रहा है। अगले हफ्ते-दो हफ्ते में पता चलेगा कि ये नई लहर है या नहीं। सीएम उद्धव ने कहा कि राज्य में सोमवार से राजनीतिक, धार्मिक और सामाजिक समारोहों पर रोक लगाई जाएगी।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि सूबे में आज यानी रविवार को करीब 7,000 Covid-19 के मामले आने की सूचना है। सीएम ने कहा कि अगर कोरोना महामारी की स्थिति बिगड़ती है, तो हमें लॉकडाउन लगाना होगा। जो लोग लॉकडाउन चाहते हैं वे बिना मास्क के घूम सकते हैं जबकि जो नहीं चाहते हैं उन्हें मास्क पहनना चाहिए और सभी नियमों का पालन करना चाहिए।

सोमवार से कई पाबंदिया लागू
सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के चलते सोमवार से महाराष्ट्र में राजनीतिक, धार्मिक और सामाजिक समारोहों पर रोक लगाई जाएगी। महाराष्ट्र में कोविड-19 के बिगड़ते हालात के बीच मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि अगले महीने राज्‍य में कोरोना महामारी के एक साल हो जाएंगे।

मास्क पहनने पर दिया जोर
सीएम उद्धव ने कोरोना महामारी से बचाव के लिए मास्‍क पहनने पर जोर देते हुए कहा कि यह लड़ाई वायरस से है। वैक्‍सीन लगाने का काम शुरू हो चुका है, लेकिन यह अभी चरणबद्ध तरीके से हो रहा है। ऐसे में मास्‍क पहनना ही हमारी पहली और मुख्‍य सुरक्षा है। इसमें किसी तरह की लापरवाही न करें।

अमरावती जिले में सोमवार से एक सप्ताह का लॉकडाउन
महाराष्ट्र के विदर्भ क्षेत्र के अमरावती जिले में 22 फरवरी को रात आठ बजे से एक सप्ताह के लिए लॉकडाउन लागू रहेगा। कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में वृद्धि के चलते यह निर्णय लिया गया है। महाराष्ट्र सरकार में कैबिनेट मंत्री यशोमति ठाकुर ने कहा कि लॉकडाउन एक मार्च को सुबह आठ बजे तक लागू रहेगा।

‘महाराष्ट्र में मिले नए वायरस ज्यादा खतरनाक’
महाराष्ट्र में कोरोना के नए स्ट्रेन की चर्चाओं के बीच दिल्ली एम्स के चीफ डॉ रणदीप गुलेरिया का कहना है कि महाराष्ट्र के अमरावती और अकोला में मिले नए स्ट्रेन से हर्ड इम्यूनिटी की संभावना झूठी है। एक चैनल से बातचीत में उन्होंने कहा कि वायरस से लड़ने के लिए 80 फीसदी आबादी में ऐंटी बॉडी होना जरूरी है। नए स्ट्रेन तेजी से फैलते हैं और खतरनाक भी हैं। जिन लोगों को पहले कोविड हो चुका है, उन्हें भी ये दोबारा बीमार कर सकते हैं। ऐसे में गुलेरिया ने लोगों से कोरोना को लेकर जरूरी ऐहतियात बरतते रहने की अपील की है। उन्होंने लोगों से वैक्सीन लगवाने को भी कहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Become a Journalist
Feedback/Query