रोज एक करोड़ डोज में भी परेशानी नहीं

नई दिल्ली : एम्पावर्ड ग्रुप के चेयरमैन बोेले- आदेश मिलते ही पंजीकरण के लिए कोविन एप खोल देंगेवैक्सीन लगवाने की तारीख और समय लोग खुद तय कर सकेंगे

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा है कि दो से तीन हफ्ते में 50 वर्ष से ऊपर और गंभीर बीमारियों से पीड़ित करीब 27 करोड़ लोगों को वैक्सीन लगनी शुरू हो जाएगी। हालांकि आईसीएमआर की ऑपरेशन रिसर्च टास्क फोर्स के चेयरमैन डॉ. नरेंद्र अरोड़ा ने कहा था कि कोविन एप डैशबोर्ड की तैयारियां बाकी हैं। इसी वजह से टीकाकरण में देरी हो रही है।

भास्कर ने यह सवाल एप से जुड़े एम्पावर्ड ग्रुप ऑफ वैक्सीन एडमिनिस्ट्रेशन फॉर कोविड-19 के चेयरमैन डॉ. आरएस शर्मा से किया तो उन्होंने कहा कि कोविन एप में कोई कमी नहीं है। आदेश मिलते ही कोविन एप नागरिकों के पंजीकरण के लिए पूरी तरह खोल दिया जाएगा।

वैक्सीन कल से लगना शुरू हो तो एप तैयार है। यदि रोज एक करोड़ वैक्सीन लगें तो भी कोविन एप कारगर साबित होगा। यही नहीं, चाहे जितनी संख्या में लोग एप पर नाम और विस्तृत जानकारी अपलोड कर सकते हैं। एप की हर तरह से जांच कर ली गई है।

ट्रेन की सीट बुक कराने की तरह आसान होगा रजिस्ट्रेशन

कोविन एप में लोग वैक्सीन के लिए खुद रजिस्ट्रेशन करवा सकेंगे। यह ट्रेन की सीट बुक कराने की तरह आसान होगा।टीके के लिए दिन व समय भी पहले से बुक किया जा सकेगा।यदि एक बार तारीख बुक करवा दी और उस दिन वैक्सीनेशन के लिए नहीं जाना चाहते हैं तो तारीख बदल भी सकेंगे।व्यक्ति के पास वैक्सीन लगवाने के लिए सेंटर चुनने का विकल्प रहेगा। हालांकि वैक्सीन चुनने का विकल्प मौजूद नहीं होगा।एप से टीकाकरण से जुड़ी जानकारी और सर्टिफिकेट भी डाउनलोड किया जा सकेगा।आरोग्य सेतु एप पर भी कोविन की लिंक उपलब्ध करवा दी गई है। यहां वैक्सीन से जुड़े सभी सवालों के जवाब दिए गए हैं।सर्टिफिकेट पाने के लिए कोविन एप पर रजिस्ट्रेशन और 14 अंकों का बेनिफिशियरी रिफरेंस आईडी जरूरी होगा।इसी से वैक्सीनेशन के बाद सर्टिफिकेट भी हासिल किया जा सकेगा।

अफ्रीकी और ब्राजीलियाई स्ट्रेन ने भी देश में दी दस्तक

देश में पिछले दो महीने में कोविड से जुड़े 192 नए वैरिएंट सामने आए हैं। इनमें से चार दक्षिण अफ्रीकी और एक ब्राजीलियाई वैरिएंट है। इससे जुड़े सभी पांच लोगों को क्वारेंटाइन किया गया है। आईसीएमआर ने मंगलवार को बताया कि देश में यूके स्ट्रेन से संक्रमित 187 मामले हैं। अब कोरोना के सक्रिय मामले 1.40 लाख से भी कम बचे हैं। कुल सक्रिय मामलों के 72% केस दो राज्यों केरल और महाराष्ट्र से हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Become a Journalist
Feedback/Query