अब 5 मार्च को होगी सुनवाई, वकील ने बताया- लालू यादव की तबीयत स्थिर

रांची : चारा घोटाला में सजायाफ्ता व राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के जेल मैनुअल उल्लंघन मामले की सुनवाई अब पांच मार्च को होगी। शुक्रवार को रिम्स की ओर से पेश की गयी मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट कोर्ट के रिकॉर्ड में नहीं थी। इस कारण अदालत ने सुनवाई पांच मार्च को निर्धारित कर दी।

सुनवाई के दौरान जस्टिस अपरेश कुमार सिंह की अदालत ने लालू प्रसाद के वकील से उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली। वकील ने बताया कि लालू का इलाज अभी भी एम्स में ही चल रहा है और उनकी हालत स्थिर है।

जेल मैनुअल के उल्लंघन के मामले की पूर्व में सुनवाई के दौरान अदालत को यह बताया गया कि लालू प्रसाद की तबीयत ज्यादा खराब होने के कारण डॉक्टरों ने बेहतर इलाज के लिए दिल्ली के एम्स में रेफर किया है। इसके लिए मेडिकल बोर्ड का गठन किया गया था।

कोर्ट ने जताई थी नाराजगी
कोर्ट ने मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट कोर्ट में पेश नहीं किए जाने पर नाराजगी जाहिर की थी और रिम्स को रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया था। रिम्स की ओर से मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट हाईकोर्ट में पेश कर दी गयी है, लेकिन शुक्रवार को वह कोर्ट के रिकॉर्ड में नहीं आ सका था। इस कारण मामले की अगली सुनवाई पांच मार्च को निर्धारित की गयी।

लालू प्रसाद यादव को रांची के रिम्‍स से दिल्ली भेजे जाने के मामले में अदालत में हेल्‍थ रिपोर्ट जमा नहीं कराने पर रिम्‍स के निदेशक के खिलाफ कोर्ट ने कारण बताओ नोटिस भी जारी किया है। जिस पर रिम्‍स निदेशक ने अपना जवाब दाखिल कर दिया है। इसके बाद जेल विभाग ने पूरे राज्‍य के लिए कैदियों के सेवादार और संबंधित नियमों को पुख्‍ता बनाते हुए नया एसओपी जारी किया। तब लालू को रिम्‍स के पेइंग वार्ड से निदेशक के बंगले में शिफ्ट कर दिया गया था। अदालत ने इस मामले में कड़ी टिप्‍पणी करते हुए कहा कि एक व्‍यक्ति विशेष के लिए नियमों को ताक पर रखना ठीक नहीं है। सरकार कानून से चलती है।

खारिज हो चुकी है जमानत याचिका

इससे पहले पिछले शुक्रवार को लालू की ओर से हाई कोर्ट में दाखिल की गई जमानत याचिका झारखंड उच्‍च न्‍यायालय ने खारिज कर दी थी। तब लालू के वकील सुप्रीम कोर्ट के वरिष्‍ठ अधिकवक्‍ता कपिल सिब्बल ने अदालत से दो माह बाद की तारीख देने का आग्रह किया था। लेकिन केंद्रीय जांच एजेंसी CBI ने लालू की जमानत में टांग अड़ाते हुए जमानत याचिका ही खारिज करने की दलीलें दी थी। इसके बाद जज ने लालू का बेल रिजेक्‍ट कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Become a Journalist
Feedback/Query