बेटी को जन्म देने वाली महिला से न देखी गई ननद की खुशी

छपरा : मां थी अस्पताल में, मामी ने दीवार में सिर टकराकर ढाई साल के अंशु की ले जान लीकिसी को पता नहीं चले, इसलिए बच्चे की लाश को डाइनिंग टेबल के अंदर कार्टून में बंद कर दिया

पहले मां बोलते हैं तब मी, दोनों शब्द मिलकर मामी बनता है। इस रिश्ते से उम्मीद की जाती है कि मां से बढ़कर ख्याल रखे, लेकिन एक कठोर महिला ने इस रिश्ते को बेरहमी की भेंट चढ़ा दी। मामी-मामी कहने वाले ढाई साल के भांजे का सिर दीवार से टकराकर उसकी जान ले ली। मासूम को इसलिए मार डाला, क्योंकि ननद ने दूसरी बार भी बेटे को जन्म दिया है, जबकि इसने एक माह पहले एक बच्ची को जन्म दिया था। इसी जलन ने उसे हत्यारी बना दिया।

किसी को पता नहीं चले, इसलिए बच्चे की लाश को डाइनिंग टेबल के अंदर कार्टन (गत्ते के डब्बे) में बंद कर दिया। घटना छपरा के दाउदपुर की है। यहां गुरुवार शाम से लापता अंशु जब कहीं नहीं मिला तो इसकी सूचना पुलिस को दी गई, जिसके बाद देर रात मासूम का शव डाइनिंग टेबल के अंदर कार्टन में बंद मिला। अंशु की मां अभी अस्पताल में भर्ती है, वह गहरे सदमे में है। थानाध्यक्ष सुजीत कुमार चौधरी ने बताया कि आरोपी मामी यानी माला देवी को गिरफ्तार कर लिया गया है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

ननद से जलन में भांजे को मार डाला
ननद से इर्ष्या में माला देवी ने अंशु की जान ले ली। दाउदपुर निवासी अजय कुमारी की पुत्री प्रतिमा ने एक सप्ताह पहले ही अपने दूसरे बेटे को जन्म दिया था। वह अपनी मां और भाभी के पास अंशु को छोड़कर अस्पताल में थी। इसी बीच मामी ने अंशु को मार डाला। थाने में दर्ज FIR के मुताबिक माला देवी ने ईर्ष्या में उसकी हत्या की है। माला को एक महीने पहले बेटी हुई थी।

डाइनिंग टेबल के अंदर कार्टून में छुपाई लाश
अंशु की हत्या करने के बाद मामी ने बच्चे के शव को कार्टन में पैक कर कमरे में छुपा दिया। लोगों को इसकी कानोंकान भनक नहीं लगे, इसलिए खुद ही शोर मचाने लगी। आस-पड़ोस के लोगों की भीड़ इकट्ठी हो गई।

मामी ने बचाव में दी यह दलील
हांलाकि, गिरफ्तारी के बाद माला देवी ने दलील दी है कि अंशु ने ऑपरेशन वाली जगह पर चोट लगा दी थी, जिसके बाद उसने अंशु को धक्का दे दिया। इससे अंशु दीवार से जा टकराया और उसके सिर से खून निकलने लगा। डर के कारण उसने अंशु को कार्टून में बंद कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Become a Journalist
Feedback/Query