नासिक के पानेवाड़ी उम्मीदवार का नाम ही लिस्ट से गायब मिला

नासिक : महाराष्ट्र के 34 जिलों में शुक्रवार को ग्राम पंचायत चुनाव के लिए मतदान शुरू है। इसके लिए प्रशासन ने सभी जरूरी तैयारियां करने का दावा किया था। हालांकि मतदान के दिन ही नासिक के मनमाड स्थित पानेवाडी मतदान केंद्र पर एक उम्मीदवार का नाम ही लिस्ट से गायब मिला। इस घटना के बाद उम्मीदवार ने चुनाव आयोग की प्रक्रिया पर सवाल उठाया है। इस घटना के बाद से कुछ देर तक मतदान केंद्र पर बवाल भी हुआ। फिलहाल स्थानीय प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची है।

महाराष्ट्र के कई जिलों में हो रहे इस चुनाव के लिए प्रत्याशियों ने जी जान से मेहनत की है। अपने भाषणों के जरिए और पोस्टरों के जरिए जनता से अपने वादों को भी साझा किया है। मतदाताओं को आकर्षित करने के लिए हर संभव प्रयत्न उम्मीदवारों की तरफ से किया गया है। लेकिन नासिक की इस घटना के बाद काफी देर तक यहां मतदान की प्रक्रिया को रोकना पड़ा।

बीड में मशीन हुई गड़बड़
धुले जिला में कावठी स्थित मतदान केंद्र पर मौजूद मशीन में गड़बड़ी की शिकायत आई है। अचानक मशीन में आई इस गड़बड़ी की वजह से यहाँ मतदान की प्रक्रिया बंद पड़ गई है। जिसकी वजह से मतदाताओं की लंबी-लंबी कतार लग गयी है। धुले, औरंगाबाद, हिंगोली और नांदगांव में ईवीएम मशीन में गड़बड़ी आने से मतदान प्रक्रिया रुक गयी है।

ग्राम पंचायतों के लिए आज मतदान
महाराष्ट्र के 34 जिलों की 14,234 ग्राम पंचायतों के लिए आज मतदान होंगे। कुछ गांवों में निर्विरोध चुनाव हो चुके हैं। मतदान सुबह साढ़े सात बजे से शाम साढ़े पांच बजे तक होगा। मतों की गणना 18 जनवरी को होगी। राज्य चुनाव आयुक्त यूपीएस मदान ने दावा किया है कि मतदान की तैयारी पूरी कर ली गई है। मतदान प्रक्रिया के लिए गुरुवार दोपहर को तहसील कार्यालयों से मतदान केंद्रों तक ईवीएम मशीन सहित अन्य आवश्यक सामग्री रवाना कर दी गई। ग्राम पंचायत चुनाव के लिए लाखों कर्मचारी नियुक्त किए गए हैं।

चुनाव कार्यक्रम स्थगित कर दिया गया था
पिछले साल अप्रैल से जून के बीच राज्य की 1,566 ग्राम पंचायतों में 31 मार्च 2020 को चुनाव होने वाले थे, लेकिन कोरोना की वजह से 17 मार्च 2020 को चुनाव कार्यक्रम स्थगित कर दिया गया। इसके बाद चुनाव कार्यक्रम पूरी तरह रद्द कर दिया गया। अब ये चुनाव दिसंबर 2020 में टर्म खत्म होने वाली व नई स्थापित ग्राम पंचायतों में एक साथ हो रहे हैं।

मतदान सुबह साढ़े सात बजे से शुरू होगी और शाम को साढ़े पांच बजे तक चलेगी, लेकिन नक्सल प्रभावित क्षेत्र गडचिरोली और गोंदिया जिले की चार तहसीलों में मतदान सुबह साढ़े सात से बजे से शाम तीन बजे तक होगा।

कोराना पीड़ितों के लिए विशेष सुविधा
कोरोना बाधित और पृथकवास में रहने वाले व्यक्तियों के लिए मतदान करने की विशेष व्यवस्था की गई है। राज्य चुनाव आयुक्त यूपीएस मदान के अनुसार, कोरोना बाधित और पृथकवास में रहने वाले व्यक्तियों का दो बार तापमान मापा जाएगा। दो बार जांच के बाद मतदाता के शरीर का तापमान निर्धारित मानदंडों से अधिक आता है, तो उसे मतदान अवधि समाप्त होने से आधा घंटे पहले निवारक उपायों का कड़ाई से पालन करते हुए मतदान करने की अनुमति प्रदान की जाएगी। मतदान के एक दिन पहले मतदान केंद्रों की जगह और सामग्री को सैनिटाइज किया जाएगा। प्रत्येक मतदान केंद्र के प्रवेश द्वार पर थर्मल स्कैंनिंग की व्यवस्था की गई है।

जिलेवार चुनाव होने वाली ग्राम पंचायतों की संख्या
ठाणे- 158, पालघर- 3, रायगड- 88, रत्नागिरी- 479, सिंधुदुर्ग- 70, नासिक- 621, धुले- 218, जलगांव- 783, अहमनगर- 767, नंदूरबार- 87, पुणे- 748, सोलापुर- 658, सातारा- 879, सांगली- 152, कोल्हापुर- 433, औरंगाबाद- 618, बीड- 129, नांदेड- 1015, उस्मानाबाद- 428, परभणी- 566, जालना- 475, लातूर- 408, हिंगोली- 495, अमरावती- 553, अकोला- 225, यवतमाल- 980, वाशीम- 163, बुलडाणा- 527, नागपुर- 130, वर्धा- 50, चंद्रपुर- 629, भंडारा- 148, गोंदिया- 189 और गडचिरोली- 362 में होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Become a Journalist
Feedback/Query