गैर सरकारी खाते में जुर्माना लेना गैरकानूनी

जमशेदपुर : साकची ट्रैफिक पुलिस पर बिना हेलमेट पकड़ाए युवकों ने निजी खाते में गूगल पे से चालान काटने का आरोप लगाया है। आरोप है कि चालान काटने की रसीद भी पुलिस ने नहीं दी। मामला तीन फरवरी को साकची स्थित काशीडीह गोलचक्कर का है। शुक्रवार को पीड़ित युवक सूरज प्रामाणिक सामाजिक सेवा संघ के सदस्यों के साथ एसएसपी ऑफिस पहुंचा व डॉ एम तमिल वाणन से मामले की शिकायत की। सूरज भी सामाजिक सेवा संघ का सदस्य है। युवक ने कहा- मैं दोस्त ऋषभ सिंह के साथ पैन कार्ड लेने साकची आ रहा था। दोनों ने हेलमेट भी पहना था।

बाइक को पार्क करने के लिए हेलमेट खोला। इसी बीच जवान पहुंचा व जुर्माना मांगा। एक हजार जुर्माना मांगा। एक हजार रुपए नहीं होने पर जवान ने उसे 500 रुपए देने को कहा। पैसे नहीं होने पर जवान ने उसे ऑनलाइन पैसे देने को कहा, जिसके बाद उसने रोशन गुड़िया नामक जवान के खाते में गूगल पे से पैसे दिए। पैसे देने के बाद ट्रैफिक जवान ने चालान काटने की रसीद भी नहीं दी। मामले में ट्रैफिक डीएसपी बबन सिंह ने कहा- युवक को चालन की रसीद नहीं देने के आरोप की जांच की जाएगी। पुलिस ऑनलाइन चालान लेती भी है तो रसीद में पैसे ऑनलाइन से लेने की बात अंकित की जाती है। अगर जवान ने ऐसा नहीं किया है तो कार्रवाई होगी।

गैर सरकारी खाते में जुर्माना लेना गैरकानूनी

जवान ऑनलाइन जुर्माना ले सकते हैं, लेकिन सिर्फ परिवहन विभाग के सरकारी खाते पर। अन्य खाते व खुद के खाते पर जुर्माना राशि मंगाना गैरकानूनी है।
-दिनेश रंजन, डीटीओ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Become a Journalist
Feedback/Query