अजमेर मेयर समेत राज्य के 87 निकायों के अध्यक्ष के लिए मतदान शुरू

जयपुर : राज्य के 20 जिलों के निकायों में रविवार को अध्यक्ष पद के लिए मतदान चल रहा है। अजमेर नगर निगम में मेयर पद पर कांग्रेस और भाजपा में टक्कर है। हालांकि भाजपा का बोर्ड बनना तय है। वोटिंग शुरु होने के साथ ही आधा घंटे में ही किशनगढ़ नगर परिषद में सभी 60 पार्षदों ने वोट डाल दिए। बूंदी जिले के नैनवां नगरपालिका में कांग्रेस के सभी 15 सदस्य सुबह 10 बजे एक साथ मतदान करने पहुंचे और एक-एक कर वोट डाला।

राज्य में 90 निकायों में से 3 निकायों पर पहले से ही निर्विरोध अध्यक्ष बन चुके हैं। इनके अलावा अब 87 निकायों में अध्यक्ष के लिए यह मतदान प्रक्रिया चल रही है। दोपहर बाद नतीजे आना शुरू हो जाएंगे। काउंटिंग का समय दोपहर 3 बजे से है।

इस मतदान में इन निकायों के 2964 वार्ड पार्षद वोटिंग कर रहे हैं। बांसवाड़ा के कुशलगढ़, झुंझुनूं के मुकुंदगढ़ और नागौर के कुचेरा में सर्वसम्मति से अध्यक्ष का चुनाव पहले से ही हो चुका है। रविवार को होने वाले मतदान में अध्यक्ष पद के लिए 197 उम्मीदवार मैदान में हैं।

मौजूदा स्थिति को देखते हुए राज्य के इन निकायों में 25 निकायों में भाजपा और 19 निकायों में कांग्रेस बहुमत में है। यदि क्रॉस वोटिंग नहीं होती है तो इनमें सीधे तौर पर भाजपा और कांग्रेस के इतने बोर्ड बनना तय है। जबकि शेष में से भी भाजपा ज्यादा भारी नजर आ रही है, लेकिन सत्ताधारी कांग्रेस को फायदा ज्यादा मिल सकता है। आमतौर पर देखा जाता रहा है कि जिसकी सत्ता होती है, निकायों में उसके प्रत्याशियों की जीत ज्यादा होती है। ऐसा कम ही देेखने में आता है कि सत्ताधारी पार्टी निकाय चुनाव में पीछे रह जाए, जैसे कि निकायों के परिणाम बता रहे हैं, भाजपा थोड़ा आगे निकलती दिख रही है।

अजमेर नगर निगम के 80 वार्ड में से 48 भाजपा, 18 कांग्रेस, 13 निर्दलीय और 1 रालोपा सदस्य है, जो मतदान में भाग ले रहे है। मतदान के दौरान सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए है। पिछली बार के निकाय चुनाव में भाजपा को बोर्ड बना था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Become a Journalist
Feedback/Query